Ai kya h


Ai kya h / Ai क्या हे ? -
Ai का full Form होता है | ( Artificial Intelligence आर्टिफीसियल इंटेलिजेंस )अब बात ये आती है की आप लोग कई देर से Artificial Intelligence के बारे में खोज कर रहे है | तो अब आपको अपना समय 
Ai kya h ? -


Ai kya h
Ai kya h
ये सब खोजने में नही लगाना पड़ेगा क्योंकि आप सही ब्लॉग Post पर आ चुके है | यहाँ पर आप को आपके ही आसन भासा में समझाया गया है की असल में Ai ( Artificial Intelligence ) आर्टिफीसियल इंटेलिजेंस क्या है ?

 Ai kya h / Ai क्या हे ? -
Ai ( Artificial Intelligence ) क्या होता है ? समझे –
जेसे की हम इंसानों में दिमाग होता है ठीक उसी तरह Computer में भी दिमाग होता है | उसे ही हम Technical भाषा में Ai यानि Artificial Intelligence बोलते है | यानि की इन्सान जिस तरह से सोच सकता हे, समझ सकता है, बोल सकता है, कर सकता है, किसी चीज का जवाब दे सकता है, ठीक उसी तरह से Computer भी Artificial Intelligence ( AI ) की मदद से सोच सकता है, समझ सकता हे, बोल सकता है, कर सकता हे, किसी चीज का जवाब दे सकता है, आदि कई सारी चीजे इंसानों की तरह कर सकता है | आसान भाषा में या Normal भाषा में इसे ही Ai ( Artificial Intelligence ) आर्टिफीसियल इंटेलिजेंस बोलते है |

Ai ( Artificial Intelligence / आर्टिफीसियल इंटेलिजेंस ) की History -
अगर हम लोग Ai ( Artificial Intelligence ) आर्टिफीसियल इंटेलिजेंस को अगर बारीकी से समझने की कोसिस करेंगे तो हमरे लिए ये समझना बहुत मुस्किल है | क्योंकि Artificial Intelligence यानि Ai के ऊपर आज से नही बलके कई सालो से इस के ऊपर कम हो रहा है | अगर देखा जाए तो इसका ( Artificial Intelligence ) History जो है लगभग 60 साल से लेकर 70 साल तक का पुराना हो सकता है |


Ai kya h
Ai kya h

Ai ( Artificial Intelligence / आर्टिफीसियल इंटेलिजेंस ) Examples 
अगर हम Example के साथ समझे की Artificial Intelligence क्या होता है | तो सबसेआसान Example और सबसे बड़ा Example आपके सामने पड़ा है जसको हमें बोलते है Google Search Engine इस google को ही देख लो अब इसमें क्या होता है ? अगर मान लो हमने Google में Search किया की Ai Kya h तो हमारे सामने कई सारे Results आते है | इस प्रक्रिया को देख क्र हम पता कर सकते है की google को पता चल गया ही हमें किस चीज़ की जरुरत है | और Google ने हमे या हमारे सामने वो चीज लाकर रख दी | जेसे की हम किसी का देख कर पता कर लेते है की इसे क्या चाहिए | क्योंकी हमारे पास दिमाग है ठीक उसी तरह Google को पता चल गया की हमे क्या चाहिए और Google ने हमे वही चीज लाके दे दी |

ऐसे ही एक और Example के साथ समझने की कोसिस करते है | जेसा की हम जानते ही है की आज के युग में Technology बहुत ही बढ़ गई है इस बढती Technology में आप Robots से तो परिचित होंगे ही | कही देखा होगा या कोई videos देखे होंगे की रोबोट्स को जो बोला जाता है, वो वेसे ही करता है  | और Robots देख भी सकते है , और पता भी कर सकते है की सामने क्या है , इसे क्या बोलते है , इसे केसे बोलना है , इससे बात केसे करनी है , हम इंसानों की तरह वो कई सारे काम भी कर सकते है बस इसी को ही हम आसन 
भाषा में Ai ( Artificial Intelligence / आर्टिफीसियल इंटेलिजेंस ) बोलते है Ai यानि कि आर्टिफीसियल इंटेलिजेंस को हिन्दी मे कृत्रिम बुद्धिमत्ता कहा जाता है |

 Ai kya h / Ai क्या हे ? -
Ai ( Artificial Intelligence ) और हमारा भविष्य ( Future ) –
जेसे जेसे दिन आगे बढ़ रहे है | वेसे वेसे आप लोग देख ही रहें है की आज के time में Ai ( Artificial Intelligence ) कितना आगे बढ़ चूका है | और हाँ ये अच्छी बात है की इस बढती Technology के साथ – साथ हमरा देश ( India ) भी आगे बढ़ रहा है

Ai kya h
Ai kya h
मुझे इस बात की बेहद खुशी है | लेकिन आप लोग अगर इस बात पर ग़ोरों – फिक्र करे तो इस बढती Technology में हमारा ही नुकसान हो रहा है | हम खुद ही अपने पैरों पर खुद ही कुल्हारी मकर रहें है | और हाँ में इतना ज्ञाता नही ही की में अपने भारत का Future बता दूँ | में तो बस अपनी राय / सोच आप लोगो के सामने रख रहा हूँ | की आने वाला समय हमारे जीवन के लिए बहुत हानि कारक है | अगर हम उदहारण या Example देखें तो Mobiles और Computers को ही देख लो ये दोनों Device इसी पर यानि की Ai ( Artificial Intelligence ) पर ही काम करते है Mobile और Computer आने के बाद आप खुद ही देख सकते है की हम कितने आलसी हो गए है | , कितने काम चोर हो गए है | और हम Fit नही रह पा रहे है | , और पता नही कोन - कोन सी बीमारियों का सामना करना पड़ रहा है तो आप लोग अच्छी तरह से समझ सकते हो की इस बढती टेक्नोलॉजी में और बढती Ai ( Artificial Intelligence ) Technology  से हमें क्या क्या नुकसान झेलने पड़ सकते सकते है | ये सारी मेरी राय की मे किस को डी – मोटीवेट नही करता हूँ | में केवल आपने शब्दों में अपनों राय पेश कर रहा हूँ | और आप लोग मुझ से बहतर जानते है |


Post a Comment

और नया पुराने